Monday, October 12, 2015

नेचर फ्रेंडली पोएम्स


कवितायेँ लिखना एक बकवास काम है
प्रेमिकाओं पे लिखना उससे भी बकवास.
प्रेमिकाएं जाने के लिए पैदा हुई हैं,
और तुम लिखी कविताओं के पन्ने फाड़ने.
बेवकूफ!! पेपर बनाने को पेड़ खर्च होते हैं,
इको-सिस्टम की माँ-बहन एक मत करो,
रुको! प्रेमिकाओं पे कवितायेँ मत लिखो.

---------

मैंने एटीएम से पैसे निकाले
लेकिन पर्ची न निकाली,
कागज़ का एक टुकड़ा बचाया,
कोई पेड़ थोड़ा कम काटा गया होगा.
(कागज़ पेड़ से बनता है.)
इस इको-फ्रेंडली काम के बाद,
पैसों की सिगरेट खरीदी
बीच सड़क फूंकी
चे-ग्वेरा वाली टी-शर्ट से हाथ पोंछे.
आँखों में क्रांति की चमक आ गई.

 तुमने भी साहित्य अकादमी लौटाया क्या?

----------

तुम्हारे कार्बन फुट-प्रिंट ,
करते तुम कुछ नहीं,
बोझ हो,
मर ही जाओ

रुको! रुको!
मरने पे ज्यादा कार्बन
उत्सर्जन करोगे.
चलो! बाद में मरना.

वैसे भी धरती आदमी के बोझ तले
कहाँ ज्यादा दिन ज़िंदा रहने वाली है.

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...