Wednesday, May 13, 2015

अकबर इलाहाबादी


मैं भी ग्रेजुएट हूँ तुम भी ग्रेजुएट
इल्मी मुबाहिसें हों, ज़रा पास आ के लेट

-अकबर इलाहाबादी
(*इल्मी मुबाहिसें: ज्ञान की बातें)

No comments:

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...