Tuesday, November 17, 2009

तेरे-मेरे बीच

तेरे-मेरे सपनों के बीच कोई आ गया.
धूप सी उजास सी, अब कुहरा सा छा गया.

No comments:

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...